राजस्थान सजग ग्राम योजना 2022 | Rajasthan Sajag Gram Yojana

Rajasthan Sajag Gram Yojana 2022: राजस्थान सजग ग्राम योजना (उद्देश, लाभार्थी, पात्रता, शिकायत नंबर, हेल्पलाइन नंबर, व्हाट्सएप नंबर, एसीबी हेल्पलाइन नंबर) Rajasthan Sajag Gram Yojana (features, objectives, benefits, beneficiaries, eligibility, complaint number, helpline number, WhatsApp number)

भ्रष्टाचार काफी लंबे समय से हमारे देश में एक बड़ी समस्या बना हुआ है। समय-समय पर भ्रष्ट अधिकारियों पर लगाम कसने के लिए गवर्नमेंट के द्वारा अभियान चलाए जाते हैं परंतु भ्रष्ट अधिकारी भ्रष्टाचार करने से बाज नहीं आते हैं फिर भी गवर्नमेंट अपने कर्तव्य से पीछे ना हटते हुए उनके लिए नए नए अभियान लाती रहती है। राजस्थान गवर्नमेंट ने ऐसे लोगों की धरपकड़ करने के लिए और भ्रष्टाचार को रोकने के लिए राजस्थान सजग ग्राम योजना को साल 2022 में स्टार्ट करने का फैसला किया है, जो भ्रष्टाचार में लिप्त होते हैं और जो गरीब जनता को परेशान करने के लिए उनसे घूस लेते हैं या फिर किसी भी प्रकार से काली कमाई करने का रास्ता अख्तियार करते हैं। इस आर्टिकल में आपको राजस्थान सजग ग्राम योजना के बारे में पूरी जानकारी हम दे रहे हैं।

Rajasthan Sajag Gram Yojana
Rajasthan Sajag Gram Yojana

राजस्थान सजग ग्राम योजना

योजना का नामराजस्थान सजग ग्राम योजना(Rajasthan Sajag Gram Yojana 2022)
साल2022
राज्यराजस्थान
उद्देश्यभ्रष्टाचार पर रोक लगाना 
लाभार्थीराजस्थान के सभी इमानदार लोग 
टोल फ्री नंबर1064

राजस्थान सजग ग्राम योजना 2022

राजस्थान में भ्रष्टाचार काफी बढ़ गया है, जिसके कारण सबसे ज्यादा परेशान राजस्थान की गरीब जनता को होना पड़ता है क्योंकि जब वह अपने किसी काम के लिए सरकारी ऑफिस के चक्कर लगाते हैं, तो वहां पर सबसे पहले उन्हें काम करवाने के बदले में घूस देनी पड़ती है और मजबूरी में उन्हें अपना काम करवाने के लिए घूस देनी भी पड़ती है। इस प्रकार सरकारी अधिकारी घूस खा खा कर के पूरी तरह से भ्रष्टाचारी हो गए हैं।

ऐसे ही भ्रष्टाचारी लोगों को पकड़ने के लिए राजस्थान गवर्नमेंट ने सजग ग्राम योजना को चालू करने का डिसीजन लिया है। इस योजना के अंतर्गत राजस्थान के एंटी करप्शन ब्यूरो को जिम्मेदारी दी गई है। एंटी करप्शन ब्यूरो के अधिकारी शिकायत मिलने पर अचानक से ही संबंधित गांव या फिर ऑफिस पर धावा बोलेंगे और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच करेंगे।

राजस्थान सजग योजना उद्देश्य

राजस्थान गवर्नमेंट ने इस योजना को भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए चालू किया है परंतु इसका उद्देश्य सिर्फ यही तक सीमित नहीं है। इस योजना के अंतर्गत गवर्नमेंट यह चाहती है कि राजस्थान की आम जनता और राजस्थान की गवर्नमेंट के बीच एक अच्छे और मजबूत संबंध स्थापित हो।

इसके अलावा जो भी योजनाएं राजस्थान में चल रही है, उनका मैनेजमेंट सही ढंग से हो, साथ ही जल्द से जल्द लोगों की समस्या का समाधान हो, ताकि उन्हें अपनी मुसीबत से छुटकारा मिले। इसके अलावा इस योजना का उद्देश्य राजस्थान में स्पोर्ट्स को बढ़ावा देना भी है।

राजस्थान सजग योजना फायदे/विशेषताएं

• इस योजना को राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने साल 2022 में चालू किया गया है।

• योजना के अंतर्गत ग्रामीण भ्रष्टाचार की शिकायत योजना में दिए गए टोल फ्री नंबर पर कर सकेंगे।

• योजना के अंतर्गत एंटी करप्शन ब्यूरो को जिम्मेदारी दी गई है।

• एंटी करप्शन ब्यूरो अचानक से ही गांव में निरीक्षण करेगा और भ्रष्टाचार पाए जाने पर कार्यवाही आगे बढ़ाएगा।

• इस योजना के कारण भ्रष्टाचारी लोग भ्रष्टाचार करने से अब डरेंगे।

• योजना के कारण राजस्थान में भ्रष्टाचार के लेवल में काफी गिरावट आएगी और कामों में पारदर्शिता बनी रहेगी।

• योजना के कारण गरीब आदमी अपना काम करवाने के लिए घूस देने के लिए विवश नहीं होगा, जिससे उसके ऊपर आर्थिक बोझ नहीं आएगा।

भ्रष्टाचार शिकायत/हेल्पलाइन नंबर

कभी-कभी आम नागरिक के किसी प्रकार के दबाव के कारण या फिर डर के कारण भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी शिकायत करने से घबराता है। इसीलिए ऐसी अवस्था को देखते हुए राजस्थान गवर्नमेंट ने भ्रष्टाचार के निवारण के लिए हेल्पलाइन नंबर और व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया है। जिस पर फोन करके आदमी अपनी शिकायतें दर्ज करवा सकता है।

राजस्थान गवर्नमेंट ने राजस्थान सजग योजना के लिए एंटी करप्शन ब्यूरो को जिम्मेदारी सौंपी है, जो कि भ्रष्ट अधिकारियों को पकड़ने के लिए काफी पहले से ही काम कर रही है। हर राज्य में एंटी करप्शन ब्यूरो की एक स्पेशल टीम होती है, जो घूस लेने वाले अधिकारियों को रंगे हाथों पकड़ने का काम करती है।

नीचे आपको एंटी करप्शन ब्यूरो का हेल्पलाइन नंबर भी दिया जा रहा है, साथ ही भ्रष्टाचार की शिकायत करने के लिए अथवा जानकारी प्राप्त करने के लिए व्हाट्सएप नंबर भी दिया जा रहा है। आप अपनी इच्छा के अनुसार एंटी करप्शन ब्यूरो पर भी शिकायत कर सकते हैं और व्हाट्सएप नंबर पर भी शिकायत कर सकते हैं।

• एसीबी हेल्पलाइन नंबर – 1064

• व्हाट्सएप नंबर – 9413502834

WhatsApp Group Join Now

NEW Telegram Group Join Now

एसीबी क्या है?

एसीबी को हिंदी में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कहा जाता है। यह एक जांच एजेंसी है जो मुख्य तौर पर भ्रष्ट अधिकारियों को रंगे हाथ पकड़ने का काम करती है।

अगर कोई अधिकारी एंटी करप्शन ब्यूरो की रेड में भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जाता है तो क्या होगा?

उसके खिलाफ एंटी करप्शन ब्यूरो आवश्यक कानूनी कार्रवाई करेगी और आरोपी साबित होने पर उसे जुर्माना भरना पड़ सकता है।

राजस्थान सजग योजना के अंतर्गत किसे जिम्मेदारी दी गई है?

राजस्थान की एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम को इस योजना के अंतर्गत जिम्मेदारी दी गई है।

राजस्थान सजग योजना के अंतर्गत क्या होगा?

राजस्थान सजग योजना के अंतर्गत भ्रष्ट अधिकारियों की धरपकड़ करने के लिए अभियान चलाया जाएगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!