WhatsApp
Telegram

UPSC (IAS) Prelims 2021: Check Answer Key of Paper 2 (CSAT) & Question Paper (PDF)

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (46K+) Join Now
5/5 - (1 vote)

निम्नलिखित 4 (चार) प्रश्नांशों के लिए निर्देश : नीचे दिए गए चार परिच्छेदों को पढ़िए और परिच्छेदों के नाच आने वाले प्रश्नांशों के उत्तर दीजिए । इन प्रश्नांशों के लिए आपके उत्तर केवल इन परिच्छेदों पर ही आधारित होने चाहिए ।

परिच्छेद -1
ऊर्जा और जलवायु संबंधी नीति-निर्माण के क्षेत्र में भारत चुनौतीपूर्ण आसन्न भविष्य का सामना कर रहा है । समस्याएँ कई हैं : जीवाश्मी ईंधन की उत्पादन क्षमताओं में अस्थिरता; सबसे गरीब लोगों के लिए बिजली और खाना पकाने के आधुनिक ईंधन की सीमित पहुँच; अस्थिर वैश्विक ऊर्जा के संदर्भ में ईंधन के आयात में वृद्धि; बिजली के निरंतर मूल्य निर्धारण और शासन की चुनौतियों के फलस्वरूप बिजली की अत्यधिक कमी अथवा अतिरिक्त आपूर्ति; केवल यही नहीं, भूमि, जल तथा वायु पर बढ़ता हुआ पर्यावरणीय विवाद । किंतु यह सब इतना निराशाजनक भी नहीं है : बढ़ते हुए ऊर्जा दक्षता कार्यक्रम; एकीकृत शहरीकरण और परिवहन नीति पर चर्चा; ऊर्जा तक पहुँच और ऊर्जा सुरक्षा बढ़ाने के लिए ठोस प्रयास; और नवीकरणीय ऊर्जा हेतु साहसिक पहल, भले ही इनकी पूरी संकल्पना तैयार नहीं है, तथापि ये परिवर्तन की आशा की ओर संकेत करते हैं।

Q21. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन उपर्युक्त परिच्छेद का सर्वाधिक निर्णायक संदेश प्रस्तुत करता है ?
(a) भारत के ऊर्जा निर्णयन की प्रक्रिया सदैव जटिल और अंतःसंबंधित है।
(b) भारत की ऊर्जा और जलवायु नीति संधारणीय विकास के लक्ष्यों के लिए अत्यधिक सुसंगत है ।
(c) भारत की ऊर्जा और जलवायु संबंधी कार्रवाई, इसके व्यापक सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरणीय लक्ष्यों के लिए अनुकूल नहीं हैं ।
(d) भारत के ऊर्जा निर्णयन की प्रक्रिया सीधे तौर पर आपूर्ति-उन्मुख है और माँग पक्ष की उपेक्षा करती
उत्तर – (a) भारत के ऊर्जा निर्णयन की प्रक्रिया सदैव जटिल और अंतःसंबंधित है।

परिच्छेद -2
ऐसी रिपोर्ट आईं हैं कि बाज़ार में बेची जाने वाली कुछ प्रतिजैविक औषधियाँ (ऐन्टिबायोटिक्स) वृद्धिकारक (ग्रोथ प्रोमोटर) के रूप में कुक्कुट (पोल्ट्री) और अन्य पशुधन को खिलाई जाती हैं । इन औषधियों के अति-प्रयोग से ऐसे सुपरबग और रोगाणु उत्पन्न हो सकते हैं, जो बहु-औषधियों के लिए प्रतिरोधी हों और जो मनुष्यों में भी प्रवेश कर सकते हैं । इससे सचेत होकर, कुछ कुक्कुट-पालन कंपनियों ने कुक्कुटों का तेज़ी से वज़न बढ़ाने के लिए औषधियों का प्रयोग बंद कर दिया है । 1990 के दशक से जब डेनमार्क ने प्रतिजैविक वृद्धिकारक (ग्रोथ प्रोमोटर ऐन्टिबायोटिक) के प्रयोग पर रोक लगाई है, प्रमुख शूकर-मांस निर्यातक का कहना है कि अधिक संख्या में शूकर पैदा हो रहे हैं – और पशुओं में भी रोग कम हो

Q22. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन उपर्युक्त परिच्छेद का सर्वाधिक निर्णायक संदेश प्रस्तुत करता है ?
(a) लोगों को पशु-पालन उत्पादों के सेवन से बचना चाहिए।
(b) पशुओं से उत्पन्न खाद्य पदार्थों के स्थान पर पौधों से उत्पन्न खाद्य पदार्थों का उपयोग करना चाहिए ।
(c) पशुओं पर प्रतिजैविक औषधियों (ऐन्टिबायोटिक्स) के प्रयोग पर प्रतिबंध होना चाहिए ।
(d) प्रतिजैविक औषधियों का प्रयोग केवल रोगों के उपचार के लिए ही किया जाना चाहिए ।
उत्तर – (d) प्रतिजैविक औषधियों का प्रयोग केवल रोगों के उपचार के लिए ही किया जाना चाहिए ।

परिच्छेद -3
नीति-निर्माताओं और जन-संचार माध्यमों (मीडिया) ने खाद्य पदार्थों की आसमान छूती कीमतों के लिए कई कारकों को दोषी ठहराया है, जिसमें ईंधन की उच्च कीमतें, प्रमुख खाद्य-उत्पादक देशों में खराब मौसम और खाद्येतर पदार्थों के उत्पादन के लिए भूमि का उपयोग शामिल है । फिर भी, सर्वाधिक आबादी वाली उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं से खाद्य पदार्थों की माँग में वृद्धि पर अधिक बल दिया गया है । इससे इस बात की बहुत अधिक संभावना बनती है कि इन देशों में अत्यधिक खपत से खाद्य संकट उत्पन्न हो सकता है ।

Q23. उपर्युक्त परिच्छेद के संदर्भ में, निम्नलिखित पूर्वधारणाएँ बनाई गई हैं :

  1. खाद्य पदार्थों के उच्च मूल्यों का एक कारण तेल | उत्पादक देश हैं।
  2. यदि निकट भविष्य में, विश्व में खाद्य संकट उत्पन्न होता है, तो वह उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं में होगा।
    उपर्युक्त में से कौन-सी पूर्वधारणा/पूर्वधारणाएँ मान्य है/हैं ?
    (a) केवल 1
    (b) केवल 2
    (c) 1 और 2 दोनों
    (d) न तो 1, न ही 2
    उत्तर -(b) केवल 2

परिच्छेद -4
आधुनिक विकास अर्थशास्त्र का मुख्य संदेश आय में वृद्धि को महत्त्व देना है, जिसका आशय सकल घरेलू उत्पाद (जी.डी.पी.) में वृद्धि से है । सिद्धांततः, बढ़ती हुई जी.डी.पी., रोज़गार और निवेश के अवसर सृजित करती है । जब किसी ऐसे देश की आय में वृद्धि होती है, जिसकी जी.डी.पी. का स्तर कभी निम्न था, तब परिवार, समुदाय और सरकार अच्छे जीवन के लिए आवश्यक वस्तुओं के उत्पादन हेतु कुछ निधि को अलग रखने में उत्तरोत्तर समर्थ होते हैं । आज विकास शब्दावली (डेवलपमेंट लेक्सिकॉन) में, जी.डी.पी. ऐसे महत्त्वपूर्ण स्थान पर आ गया है कि यदि कोई “आर्थिक वृद्धि” का उल्लेख करता है, तो हम जान जाते हैं कि उनका आशय जी.डी.पी. में वृद्धि से है ।

Q24. उपर्युक्त परिच्छेद के संदर्भ में, निम्नलिखित पूर्वधारणाएँ बनाई गई हैं :

  1. बढ़ती हुई जी.डी.पी. किसी देश को विकसित देश बनने के लिए अनिवार्य है।
  2. बढ़ती हुई जी.डी.पी. सभी परिवारों में आय का समुचित वितरण सुनिश्चित करती है।
    उपर्युक्त में से कौन-सी पूर्वधारणा/पूर्वधारणाएँ मान्य है/हैं ?
    (a) केवल 1
    (b) केवल
    (c) 1 और 2 दोनों
    (d) न तो 1, न ही 2
    उत्तर -(c) 1 और 2 दोनों

Q25. सात पुस्तकें P, Q, R, S, T, U और V साथ-साथ रखी हैं । R, Q और T के आवरण नीले हैं और अन्य पुस्तकों के आवरण लाल रंग के हैं । केवल s और U नई पुस्तकें हैं और शेष पुस्तकें पुरानी हैं । P, R और S विधि रिपोर्ट हैं; शेष गजेटियर हैं । नीले आवरण वाले पुराने गजेटियर कौन-से हैं ?
(a) Q और R
(b) Q और U
(c) Q और T
(d) T और U
उत्तर – (c) Q और T

Q26. एक दिए गए अनुक्रम 3, 2, 7, 4, 13, 10, 21, 18, 31, 28, 43, 40 में, ग़लत पद को सही पद से बदलें, जहाँ विषम पद और सम पद समान पैटर्न का अनुसरण करते हैं ।
(a) 0
(b) 1
(c) 3
(d) 6
उत्तर – (a) 0

Q27. कुछ प्रविष्टियों का आव्यूह नीचे दिया गया है । प्रविष्टियाँ पंक्तिवार एक निश्चित प्रवृत्ति का अनुसरण करती हैं । तदनुसार अप्राप्त प्रविष्टि (?) का चयन कीजिए ।

image

(a) 9B
(b) 3A
(c) 3B
(d) 3c
उत्तर – (c) 3B

Q28. नीचे दो पंक्तियों में दो सर्वसम अनुक्रम दिए गए हैं : अनुक्रम-II के लिए C के स्थान पर क्या प्रविष्टि है ?

image 1

(a) 2.5
(b) 5
(c) 375
(d) 32.8125
उत्तर – (c) 375

Q29. एक व्यक्ति x, स्थान A से तथा एक अन्य व्यक्ति Y. स्थान B से एक ही समय पर एक-दूसरे की ओर चलना आरंभ करते हैं । दोनों स्थानों के बीच की दूरी 15 km है । x, 1.5 km/hr की एकसमान चाल से चलता है और Y पहले घंटे में 1 km/hr की एकसमान चाल से, दूसरे घंटे में 1-25 km/hr की एकसमान चाल से तथा तीसरे घंटे में 1.5 km/hr की एकसमान चाल से चलता है और इसी प्रकार आगे भी चलना जारी रखता है । निम्नलिखित में से कौन-सा/कौन-से सही है/हैं ?

  1. उन दोनों को मिलने में 5 घंटे का समय लगेगा।
  2. वे दोनों A तथा B स्थानों के बीचों-बीच मिलेंगे ।
    नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए :
    (a) केवल 1
    (b) केवल 2
    (c) 1 और 2 दोनों
    (d) न तो 1, न ही 2
    उत्तर -(c) 1 और 2 दोनों

Q30. एक विद्यार्थी परीक्षा के 6 प्रश्न-पत्रों में बैठता है । प्रत्येक प्रश्न-पत्र के लिए अधिकतम अंक एकसमान हैं । इन प्रश्न-पत्रों में उसके प्राप्तांक 5 : 6 : 7 : 8 : 9 : 10 के अनुपात में हैं । कुल मिलाकर उसने 60% अंक प्राप्त किए । उसने कितने प्रश्न-पत्रों में अधिकतम अंकों के 60% से कम अंक प्राप्त किए ?
(a) 2
(b) 3
(c) 4
(d) 5
उत्तर – (b) 3

निम्नलिखित 4 (चार) प्रश्नांशों के लिए निर्देश : नीचे दिए गए चार परिच्छेदों को पढ़िए और परिच्छेदों के नीचे आने वाले प्रश्नांशों के उत्तर दीजिए । इन प्रश्नांशों के लिए आपके उत्तर केवल इन परिच्छेदों पर ही आधारित होने चाहिए ।

परिच्छेद -1
तथाकथित धार्मिक संप्रदायों के संबंध में, यदि प्रत्येक व्यक्ति को अपने धर्म का आकलन करने के लिए कहा जाए, तो धर्म के रूप में ऐसी कोई बात नहीं होगी जो ग़लत हो; किंतु यदि वे एक-दूसरे के धर्म का आकलन करते हैं, तो धर्म के रूप में ऐसी कोई बात नहीं होगी जो सही हो, और इसलिए धर्म के संदर्भ में, संपूर्ण विश्व सही है या संपूर्ण विश्व ग़लत है ।

Q31. उपर्युक्त परिच्छेद के आधार पर, सर्वाधिक तर्कसंगत पूर्वधारणा कौन-सी हो सकती है ?
(a) कोई भी व्यक्ति किसी धार्मिक संप्रदाय का अनुयायी बने बिना जीवन व्यतीत नहीं कर सकता।
(b) प्रत्येक व्यक्ति का कर्तव्य है कि वह अपने धार्मिक संप्रदाय का प्रसार करे ।
(c) धार्मिक संप्रदायों में मनुष्य की एकता की उपेक्षा करने की प्रवृत्ति होती है।
(d) लोग अपने धार्मिक संप्रदाय को नहीं समझते हैं।
उत्तर – (c) धार्मिक संप्रदायों में मनुष्य की एकता की उपेक्षा करने की प्रवृत्ति होती है।

परिच्छेद -2
यह निश्चित है कि राजद्रोह, युद्ध, और विधि (लॉ) की अवहेलना अथवा उल्लंघन को प्रजा की अनैतिकता पर उतना नहीं मढ़ा जा सकता, जितना कि उस अधिराज्य (डोमिनियन) की बुरी स्थिति पर । क्योंकि, मनुष्य जन्मजात रूप से नागरिकता के लिए उपयुक्त नहीं होते हैं, अपितु उन्हें नागरिकता के लिए उपयुक्त बनाया जाना चाहिए । इसके अतिरिक्त, मनुष्य में नैसर्गिक मनोभाव सर्वत्र समान होते हैं; और यदि अनैतिकता अधिक प्रबल होती है, और किसी राष्ट्रमंडल (कॉमनवेल्थ) में, दूसरे राष्ट्रमंडल की तुलना में अधिक अपराध होते हैं, तो यह निश्चित है कि पूर्ववर्ती राष्ट्रमंडल ने एकता के लक्ष्य के लिए पर्याप्त रूप से न तो प्रयास किया है, और न ही पूर्व-विचार करके अपनी विधि बनाई है; और इसीलिए, वह राष्ट्रमंडल के रूप में अपने अधिकार को बेहतर बनाने में विफल रहा है ।

Q32. उपर्युक्त परिच्छेद के आधार पर, निम्नलिखित में से कौन-सा सर्वाधिक तर्कसंगत और विवेकपूर्ण निष्कर्ष निकाला जा सकता है ?
(a) प्रत्येक अधिराज्य में राजद्रोह, युद्ध और विधि के उल्लंघन अपरिहार्य हैं।
(b) किसी अधिराज्य में सभी समस्याओं के लिए संप्रभु (सॉद्रिन) उत्तरदायी होता है, न कि जनता ।
(c) वह अधिराज्य सर्वोत्तम है जो एकता के लक्ष्य के लिए प्रयास करता है और जिसके पास सु-नागरिकता (गुड सिटिज़नशिप) के लिए विधि (लॉ) है।
(d) लोगों द्वारा अच्छा अधिराज्य स्थापित कर पाना असंभव है।
उत्तर – (c) वह अधिराज्य सर्वोत्तम है जो एकता के लक्ष्य के लिए प्रयास करता है और जिसके पास सु-नागरिकता (गुड सिटिज़नशिप) के लिए विधि (लॉ) है।

परिच्छेद -3
असमानता इस मूल लोकतांत्रिक प्रतिमानक का उल्लंघन करती है कि सभी नागरिक समान हैं । समानता वह संबंध है, जो कुछेक मूलभूत विशेषताओं के संबंध में व्यक्तियों के बीच होती है, जिसे वे सामान्य रूप से साझा करते हैं । नैतिकता की दृष्टि से कहें तो समानता एक स्वतः निर्धारित सिद्धांत है । इसलिए प्रजाति, जाति, लिंग, संजातीयता, निःशक्तता, या वर्ग जैसे आधारों पर व्यक्तियों के बीच भेदभाव नहीं किया जाना चाहिए । मानवीय स्थिति की ये विशेषताएँ नैतिक दृष्टि से संगत नहीं हैं । यह विचार कि व्यक्तियों के साथ सम्मानपूर्वक व्यवहार किया जाना चाहिए, न केवल इस कारण से कि इनमें से कुछेक व्यक्तियों के पास कुछ असाधारण विशेषताएँ अथवा प्रतिभा होती है, जैसे, इनमें से कुछेक व्यक्ति कुशल क्रिकेट खिलाड़ी, प्रतिभाशाली संगीतकार, अथवा विख्यात साहित्यकार होते हैं, बल्कि इसलिए भी कि वे सभी मनुष्य हैं, अब सामान्यबुद्धि-नीति का अंग बन गया है।

Q33. उपर्युक्त परिच्छेद के संदर्भ में, निम्नलिखित पूर्वधारणाएं बनाई गई हैं :

  1. समानता, लोगों के लिए समाज के बहुविध व्यवहारों में आत्मविश्वास के साथ भाग लेने की एक पूर्वापेक्षा है।
  2. असमानता का होना लोकतंत्र के अस्तित्व के लिए हानिकारक है।
  3. सभी नागरिकों के समान होने का विचार ऐसा है, जिसे किसी लोकतंत्र में भी वास्तव में कार्यान्वित नहीं किया जा सकता है।
  4. समानता के अधिकार को हमारे मूल्यों और दिन-प्रतिदिन की राजनीतिक शब्दावली में समाविष्ट किया जाना चाहिए। उपर्युक्त में से कौन-सी पूर्वधारणाएँ मान्य हैं ?
    (a) केवल 1 और 2
    (b) केवल 2 और 3
    (c) केवल 1 और 4
    (d) केवल 3 और 4
    उत्तर -(a) केवल 1 और 2

परिच्छेद -4
अभिजातीय शासन स्वयं को उस दायरे में अत्यधिक रूप से सीमाबद्ध करके विनष्ट कर लेता है, जिस दायरे में सत्ता सीमित होती है; अल्पतंत्रीय शासन तात्कालिक धन प्राप्ति के लिए असावधानीपूर्वक संघर्ष कर स्वयं को विनष्ट करता है । यहाँ तक कि, लोकतंत्र के अतिरेक से लोकतंत्र भी स्वयं को विनष्ट करता है । इसका मूलभूत सिद्धांत यह है कि पद धारण करने और लोक नीति निर्धारण करने का सबको समान अधिकार है । प्रथम दृष्टि में, यह एक सुखद व्यवस्था है; किंतु यह विनाशकारी बन जाता है, क्योंकि लोग समुचित रूप से शिक्षित नहीं होते हैं कि वे उत्तम शासकों और सर्वाधिक विवेकपूर्ण मार्ग का चयन कर सकें । लोगों में समझ नहीं होती है और वे केवल वही दोहराते हैं जो उनके शासक उन्हें कहना पसंद करते हैं । ऐसा लोकतंत्र, निरंकुश शासन या स्वेच्छाचारी शासन होता है। – प्लेटो

Q34. निम्नलिखित में से कौन-सा कथन उपर्युक्त परिच्छेद के मर्म को सर्वोत्तम रूप से दर्शाता है ?
(a) मानव समाज शासन के भिन्न-भिन्न रूपों के साथ प्रयोग करते हैं।
(b) अपने मूलभूत सिद्धांत के अतिरेक के कारण शासन के किसी भी रूप का अपकर्ष हो जाता हैं।
(c) सभी नागरिकों की शिक्षा ही पूर्ण, कार्यात्मक और धारणीय लोकतंत्र को सुनिश्चित करती है ।
(d) शासन का अस्तित्व एक अपरिहार्य बुराई है, क्योंकि शासन के सभी रूपों में निरंकुशता अंतर्निहित होती है।
उत्तर – (b) अपने मूलभूत सिद्धांत के अतिरेक के कारण शासन के किसी भी रूप का अपकर्ष हो जाता हैं।

Q35. 120 व्यक्तियों के समूह में, 80 भारतीय हैं और शेष विदेशी हैं । इसके अतिरिक्त, इस समह में 70 व्यक्ति अंग्रेज़ी बोल सकते हैं । ऐसे भारतीयों की संख्या कितनी है जो अंग्रेज़ी बोल सकते हैं ?
(a) 20
(b) 30
(c) 30 या उससे कम
(d) 30 या उससे अधिक
उत्तर – (d) 30 या उससे अधिक

Q36. तीन शून्येतर (नॉन-ज़ीरो) अंकों के प्रयोग (अंकों की पुनरावृत्ति के बिना) से प्राप्त 3 अंकों वाली सभी संख्याओं पर विचार कीजिए जो 3 के गुणज हैं । मान लीजिए इन संख्याओं का योगफल s है । निम्नलिखित में से कौन-सा/कौन-से सही है/हैं ?

  1. सदैव 74 से भाज्य है।
  2. सदैव 9 से भाज्य है।
    नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए :
    (a) केवल 1
    (b) केवल 2
    (c) 1 और 2 दोनों
    (d) न तो 1, न ही 2
    उत्तर -(c) 1 और 2 दोनों

Q37. दो कक्षाओं A और B में क्रमशः 25 और 30 विद्यार्थी हैं । कक्षा-A में अधिकतम प्राप्तांक 21 है तथा न्यूनतम प्राप्तांक 17 है । कक्षा-B में अधिकतम प्राप्तांक 30 है तथा न्यूनतम प्राप्तांक 22 है । कक्षा-A से 4 विद्यार्थी कक्षा-B में स्थानांतरित किए जाते हैं । निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए :

  1. कक्षा-B का औसत प्राप्तांक निश्चित रूप से घटेगा।
  2. कक्षा-A का औसत प्राप्तांक निश्चित रूप से बढ़ेगा।
    उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/कौन-से सही है/हैं ?
    (a) केवल 1
    (b) केवल 2
    (c) 1 और 2 दोनों
    (d) न तो 1, न ही 2
    उत्तर -(a) केवल 1

Q38. दो कथनों और एक प्रश्न पर विचार कीजिए :
कथन-1 : प्रिया, सीमा से 4 स्थान नीचे है और सबसे निचले स्थान से 31वें स्थान पर है।
कथन-2 : ईना, सीमा से 2 स्थान ऊपर है और सबसे निचले स्थान से 37वें स्थान पर है।
प्रश्न: 40 विद्यार्थियों की कक्षा में, शीर्ष स्थान में सीमा का कौन-सा स्थान है ? कथनों और प्रश्न के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा सही है ?
(a) प्रश्न का उत्तर देने के लिए केवल कथन-1 पर्याप्त नहीं है
(b) प्रश्न का उत्तर देने के लिए केवल कथन-2 पर्याप्त नहीं है
(c) प्रश्न का उत्तर देने के लिए या तो केवल कथन-1 या केवल कथन-2 पर्याप्त है
(d) प्रश्न का उत्तर देने के लिए कथन-1 और कथन-2 दोनों की आवश्यकता है।
उत्तर – (c) प्रश्न का उत्तर देने के लिए या तो केवल कथन-1 या केवल कथन-2 पर्याप्त है

Q39. दो कथनों और एक प्रश्न पर विचार कीजिए :
कथन-1 : A और D में से प्रत्येक, B, E और F में प्रत्येक से अधिक भारी है, किंतु उनमें से कोई भी सबसे अधिक भारी नहीं है।
कथन-2 : A, D से अधिक भारी है, किंतु C से हल्का प्रश्न : A, B, C, D और E में सबसे अधिक भारी कौन है ? कथनों और प्रश्न के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा सही है ?
(a) प्रश्न का उत्तर देने के लिए केवल कथन-1 पर्याप्त
(b) प्रश्न का उत्तर देने के लिए केवल कथन-2 पर्याप्त
(c) प्रश्न का उत्तर देने के लिए कथन-1 और कथन-2 दोनो की आवश्यकता है
(d) प्रश्न का उत्तर देने के लिए न तो केवल कथन-1, न ही केवल कथन-2 पर्याप्त है
उत्तर – (a) प्रश्न का उत्तर देने के लिए केवल कथन-1 पर्याप्त

Q40. अंग्रेज़ी वर्णमाला में, प्रारंभिक 4 अक्षर विपरीत क्रम में लिखे जाते हैं; और अगले 4 अक्षर विपरीत क्रम में लिखे जाते हैं और आगे भी इसी तरह लिखा जाता है; और अंत में Y और Z को परस्पर बदल दिया जाता है । 13वें अक्षर के दायीं ओर से चौथा अक्षर कौन-सा होगा ?
(a) N
(b) T
(c) H
(d) I
उत्तर – (b) T


Leave a Comment

error: Content is protected !!